News Aap Tak

Bengali English Gujarati Hindi Kannada Punjabi Tamil Telugu
News Aap Tak
[the_ad id='5574']

कुमाऊं में कई दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश,होमगार्ड और पर्यटकों समेत 3 लोगों की मौत,बारिश ने मचाया कोहराम,

न्यूज़ आपतक उत्तराखंड

कुमाऊं में कई दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश, जनजीवन अस्त व्यस्त,गरमपानी में बोल्डर की चपेट में आने से पर्यटक और पिथौरागढ़ जिले में मजदूर की मौत,हल्द्वानी में गधेरे में बहने से होमगार्ड की भी मौत,

कुमाऊं में मूसलाधार बारिश, जनजीवन अस्त व्यस्त

इस कारण शनिवार को दिन भर तबाही का मंजर दिखा। पहाड़ों पर जगह-जगह भूस्खलन और मलबे से कई जगह मकान क्षतिग्रस्त हो गए तो कहीं सड़कें जलमग्न हो गईं। वहीं गरमपानी में बोल्डर की चपेट में आने से पर्यटक और पिथौरागढ़ जिले में मजदूर की जान चली गई। हल्द्वानी में गधेरे में बहने से होमगार्ड की भी मौत हो गई। दरअसल भवाली-अल्मोड़ा राष्ट्रीय राजमार्ग पर पाडली के पास शनिवार की दोपहर 12:30 बजे सैलानियों की कार के ऊपर पहाड़ी से बोल्डर गिर गया। इससे कार अनियंत्रित होकर सड़क पर पलटी तो जितिन दिवाकर (35) पुत्र रामचरन निवासी लाइनपार नियर भोलानाथ ट्रेडर्स मुरादाबाद की मौत हो गई। प्रवीण चौधरी (29), अक्षय राज (31) निवासी सेक्टर 10, फेस 2 मझोला बुद्धि विहार मुरादाबाद और अभय चौधरी (20) निवासी शेरवा धर्मपुर अगवानपुर मुरादाबाद घायल हो गए। तीनों को सीएचसी खैरना ले जाया गया जहां प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टर ने छुट्टी दे दी। बताया जा रहा है कि जितिन मुरादाबाद में मेडिकल स्टोर चलता था और वह अपने साथियों के साथ कैंची धाम के दर्शन के लिए आया था।

उधर, भौर्सा निवासी होमगार्ड महेश चंद्र पलड़िया (36) पुत्र उमापति पलड़िया की शुक्रवार की शाम ड्यूटी से घर लौटते समय भौर्सा के पास जमरानी गधेरे में बहने से जान चली गई। उनका शव शनिवार सुबह गधेरे में पड़ा मिला। पिथौरागढ़ में नामिक-होकरा निर्माणाधीन सड़क पर पहाड़ी से गिरे पत्थर की चपेट में आने से मजदूर दिनेश चंद्र पाठक की मौत हो गई। बेड़ीनाग तहसील के मेरल संगौड़ पांखू निवासी दिनेश पत्थर की चपेट में आने से 100 मीटर खाई में गिर गया। एसडीआरएफ और नाचनी पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से रेस्क्यू अभियान चलाकर उन्हें खाई से निकाला लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। वहीं बारिश के कारण अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग में पिथौरागढ़ की ओर मलबा आने से डेढ़ घंटे एनएच बंद रहा। टनकपुर चंपावत राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्वांला के पास सड़क का 30 मीटर हिस्सा पूरी तरह बह गया। इस कारण लोहाघाट डिपो की रोडवेज की 13 बसें टनकपुर में फंसी रहीं। बागेश्वर-कपकोट मोटर मार्ग में कभड़ भ्योल के समीप पहाड़ी से भारी मात्रा में मलबा गिरा और कई घंटे यातायात ठप रहा। अल्मोड़ा और बागेश्वर में एक-एक आवासीय मकान ध्वस्त हो गया है। नैनीताल-हल्द्वानी रोड में ताकुला क्षेत्र में कई जगह सड़क में धंसाव होने लगा है। बारिश के बाद नैनीताल-भवाली रोड में भी कई जगह दरारें नजर आने लगी हैं।

News Aap Tak
Author: News Aap Tak

Chief Editor News Aaptak Dehradun (Uttarakhand)

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram