News Aap Tak

Bengali English Gujarati Hindi Kannada Punjabi Tamil Telugu
News Aap Tak
[the_ad id='5574']

जमीन के नाम पर धोखाधड़ी ,बैंक का 33लाख ऋण लौटये बगैर बेच दी जमीन मुकदमा दर्ज…!

न्यूज़ आपतक उत्तराखंड

उत्तराखंड हरिद्वार :संपत्ति वर्ष 2015 से एलआईसी हाउसिंग के पास गिरवी ,ऑफ बड़ौदा ऋषिकेश में बंधक है ….

हरिद्वार के कई थाना क्षेत्रों में धोखाधड़ी के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. थाना पुलिस से सहयोग न मिलने के बाद एक बार फिर एसएसपी के आदेश पर सिडकुल थाना पुलिस ने बैंक का लोन चुकाए बगैर संपत्ति बेचने के मामले में सिडकुल थाना में मुकदमा दर्ज कराया है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है.

मिली जानकारी के अनुसार बबीता सिंह और हरमन अरोड़ा निवासी शास्त्री नगर देहरादून ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिद्वार को शिकायती पत्र देकर बताया कि उन्हें हरिद्वार में आवासीय संपत्ति खरीदनी थी. प्रॉपर्टी डीलर विकास त्यागी ने रावली महदूद निवासी स्मिता भंडारी व उसके पति धर्मेंद्र से मिलवाया. धर्मेंद्र का कहना था कि उनकी सम्पत्ति बैंक ऑफ बड़ौदा ऋषिकेश में बंधक है और लगभग 50 लाख रुपये बकाया है. प्रॉपर्टी डीलर विकास त्यागी, स्मिता भंडारी व उसके पति धर्मेन्द्र कुमार की बातों में आकर उन्होंने अलग-अलग किश्तों में कुल 52.20 लाख रुपये अदा किए और कब्जा लेकर संपत्ति को किराये पर दे दिया. कुछ दिन बाद एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस की ओर से उन्हें एक कॉल आई और उन्हें बताया गया कि संपत्ति पर 33 लाख रुपये का कर्ज बाकी है.

यह सुनकर वह चौंक गए, जानकारी जुटाने पर पता चला कि संपत्ति वर्ष 2015 से एलआईसी हाउसिंग के पास गिरवी रखी हुई है. उन्होंने स्मिता भंडारी, धर्मेन्द्र कुमार, विकास त्यागी आदि से सम्पर्क किया तो उन्होंने लोन चुकाने का वादा किया. बीते छह अगस्त को एलआईसी एचएफएल की ओर से संपत्ति खाली करने के लिए नोटिस चस्पा कर दिया गया. आरोप लगाया कि धोखाधड़ी कर बंधक रखी गई संपत्ति बेचते हुए रकम हड़प ली गई. एसएसपी के निर्देश पर सिडकुल थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया. इंस्पेक्टर सिडकुल प्रमोद उनियाल ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है. जिन पर धोखाधड़ी का आरोप लगा है, उनसे पूछताछ की जा रही है.

News Aap Tak
Author: News Aap Tak

Chief Editor News Aaptak Dehradun (Uttarakhand)

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram