News Aap Tak

Bengali English Gujarati Hindi Kannada Punjabi Tamil Telugu
News Aap Tak
[the_ad id='5574']

मालदेवता के समीप सरखेत में बादल फटने से आपदा में जिंदा दफन हुए लोगों की तलाश ,NDRF का सर्च ऑपरेशन जारी, अभीतक 11 शव मिले,

न्यूज़ आपतक उत्तराखंड

मलबे में दबे लोगों को ढूंढने के लिए लगातार सर्च अभियान, उत्तराखंड में 19 और 20 अगस्त को आई आपदा में जान गंवा चुके 11 शव अब तक बरामद 

देहरादून: सरखेत गांव में 19 व 20 अगस्त रात को आई आपदा के बाद मलबे के पहाड़ में दबे शवों को एनडीआरएफ की टीम (NDRF  खोजने में जुटी हुई है. लापता लोगों की तलाश में सर्च और रेस्क्यू ऑपरेशन लगातार चलाया जा रहा है. सर्च ऑपरेशन के दौरान एनडीआरएफ अब तक तीन शव बरामद चुकी है. सरखेत में 5 लोगों के लापता होने की जानकारी थी. इसमें तीन के शव बरामद हो चुके हैं. जबकि अभी भी 2 लोग लापता हैं.

20 अगस्त को टिहरी गढ़वाल और देहरादून जिले के सीमावर्ती क्षेत्र मालदेवता के समीप सरखेत में बादल फटने से 5 लोग लापता हो गए थे. इनमें से एनडीआरएफ अब तक 3 शव बरामद कर चुकी है. जबकि 2 लोग अभी भी लापता हैं. देहरादून जिले में अभी तक 5 शव बरामद हो चुके हैं. जबकि 4 अभी भी लापता हैं.

बीते 20 अगस्त को तड़के तकरीबन 3 बजे देहरादून जिले की खैरी मानसिंह इलाके में आने वाले सरखेत गांव में आसमान से बरसी तबाही का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि जहां पर एक फल फूलता गांव था, वहां पर अब 70 मीटर मलबे का पहाड़ खड़ा हो गया है. सरखेत क्षेत्र में आई इस आपदा ने तकरीबन 25 परिवारों के घर जमींदोज कर दिए हैं. आलम यह है कि जहां अच्छे खासे मकान हुआ करते थे, वहां, मलबा का ढेर जम गया है. इसी मलबे में दबे लोगों को ढूंढने के लिए लगातार सर्च अभियान चलाया जा रहा है.

आपदा का एपी सेंटर सेरखेत गांव में सर्च एंड रेस्क्यू ऑपरेशन की कमान संभाल रहे एनडीआरफ इंस्पेक्टर मयंक कुमार ने बताया कि उनकी टीम आपदा के दिन से ही लगातार गांव में आए इस मलबे को बड़ी-बड़ी मशीनों से हटाने में लगी है. ईटीवी भारत से खास बातचीत करते हुए बताया कि गांव के ऊपर तकरीबन 70 मीटर मलबा आया है. इसमें से 30 मीटर के मलबे को छानकर अलग कर दिया गया है. इसमें से अब तक 3 शव बरामद हो चुके हैं. अभी भी इस मलबे में दो शव मौजूद हैं, जिनकी लगातार तलाश की जा रही है.

लापताएनडीआरफ इंस्पेक्टर मयंक कुमार का कहना है कि इस मलबे से लापता 2 शव बरामद करने के बाद एनडीआरएफ की टीम सड़क को खोलने का अगला काम शुरू करेगी. एनडीआरएफ टीम को कमांड कर रहे मयंक कुमार ने बताया कि मार्ग को सबसे ज्यादा इसी जगह पर नुकसान हुआ. इसको खोलने के बाद आगे के गांव में भी पहुंचा जाएगा. वहां पर भी इस तरह का सर्च अभियान चलाया जाएगा.

11 शव बरामदः उत्तराखंड में 19 और 20 अगस्त को आई आपदा में जान गंवा चुके 11 शव अब तक बरामद हो चुके हैं, जबकि 8 लापता हैं. इसके अलावा 10 लोग घायल हैं. वहीं, देहरादून की बात करे तो दून में 5 शव बरामद हो चुके हैं. जबकि अभी भी 4 लापता हैं जिनकी तलाश में लगातार सर्च एंड रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है. टिहरी में 5 के शव बरामद और 4 लापता हैं.

 

News Aap Tak
Author: News Aap Tak

Chief Editor News Aaptak Dehradun (Uttarakhand)

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram