News Aap Tak

Bengali English Gujarati Hindi Kannada Punjabi Tamil Telugu
News Aap Tak
[the_ad id='5574']

नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने नसीहत देते हुए कहा,पार्टी फोरम में रखें अपनी बात……

न्यूज़ आपतक उत्तराखंड

नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य पार्टी में उठे बवाल को शांत करने में लगे हुए हैं.पार्टी को डैमेज कंट्रोल करने में लगे हुए हैं. ……..

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य पार्टी में उठे बवाल को शांत करने में लगे हुए हैं. यही कारण है कि वे नाराज नेताओं से मिलकर उन्हें मनाने की कोशिश में लगे हुए हैं. वहीं, उन्होंने विधायक हरीश धामी समेत नाराज नेताओं को नसीहत (Yashpal Arya advice) भी दी है कि जो भी शिकायत है, उसे पार्टी फोरम पर रखें न की मीडिया और सावर्चनिक मचों पर.
देहरादून: उत्तराखंड के अंदर कांग्रेस में इन दिनों बवाल मचा हुआ  है. कांग्रेस के कई नेताओं ने बागी तेवर अपनाए हुए हैं और सार्वजनिक मंचों के जरिए अपना गुस्सा भी जाहिर कर रहे हैं. धारचूला से कांग्रेस विधायक हरीश धामी (Harish Dhami) ने तो कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव तक पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं. ऐसे में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने पार्टी को डैमेज कंट्रोल करने में लगे हुए हैं. यशपाल आर्य  ने हरीश धामी समेत नाराज नेताओं को नसीहत भी दी है.
नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य  ने कांग्रेस में मचे बवाल को शांत करने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है. यशपाल आर्य ने जहां सबसे पहले जाकर पूर्व नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह से मुलाकात की. उसके बाद अब वह लगातार कांग्रेस के विधायकों से मुलाकात कर रहे हैं और उन्हें मनाने की कोशिश कर रहे हैं. क्योंकि कांग्रेस ने सबसे बड़ी उथल-पुथल और नाराजगी जो देखने को मिल रही है, वह नेता प्रतिपक्ष को लेकर दिख रही है. इस सब को देखते हुए यशपाल आर्य विधायकों के आवास पर पहुंच कर उन्हें मानने की कोशिश कर रहे हैं.

वहीं हरीश धामी को बागी तेवरों के लेकर नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने कहा कि वह अनुभवी विधायक हैं, उनके अंदर युवा जोश है. लेकिन फिर उनकी किसी से कोई शिकायत है तो वे पार्टी फोरम या मंच पर अपनी बात रखे. साथ ही यशपाल आर्य ने अपने आप को छोटा कार्यकर्ता बताते हुए अपील की है कि अगर कोई भी बात कहनी है तो सार्वजनिक मंच पर न करें. उन्होंने सभी नेताओं को नसीहत देते हुए कहा कि पार्टी के अंदर अपनी बात रखें. पार्टी एक परिवार की तरह है, सभी को साथ मिलकर चलना होगा. तभी पार्टी मजबूत होगी. इसके साथ ही यशपाल आर्य लगातार कांग्रेस के विधायकों को मनाने की जद्दोजहद में लगे हुए हैं, जिसमें उनका साथ प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा भी दे रहे हैं.
बता दें कि दिन पहले जहां यशपाल आर्य ने वरिष्ठ नेता प्रीतम सिंह से मिलकर उनका नाराजगी दूर करने की कौशिश की थी. वहीं बुधवार रात को वे विधायक खुशाल सिंह अधिकारी और ममता राकेश से मुलाकात कर उन्हें भी मनाने का प्रयास किया था. वहीं यशपाल आर्य ने कहा कि पार्टी का सम्मान नहीं तो हमारा भी सम्मान नहीं. कांग्रेसियों को दूसरे दलों से भी सीखना चाहिए, जहां उनके नेता अपनी बात पार्टी फोरम पर रखते हैं.

News Aap Tak
Author: News Aap Tak

Chief Editor News Aaptak Dehradun (Uttarakhand)

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram