News Aap Tak

Bengali English Gujarati Hindi Kannada Punjabi Tamil Telugu
News Aap Tak
[the_ad id='5574']

अधिकारियों में काहे की अकड़,जब CM का परिवार VIP नहीं ,CM धामी ने दिया कड़ा संदेश………!

न्यूज़ आपतक उत्तराखंड

अगर मुख्यमंत्री के परिजन चेकअप के लिए खुद अस्पताल जा सकते हैं, तो अधिकारियों की हनक क्यों बर्दाश्त की जा रही है …?

देहरादून: दून मेडिकल कॉलेज की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. निधि उनियाल के ट्रांसफर का मामला सोशल मीडिया पर छाया हुआ है। डॉ. निधि उनियाल को स्वास्थ्य सचिव की पत्नी के चेकअप के लिए उनके घर भेजा गया था। जहां स्वास्थ्य सचिव की पत्नी ने उनके साथ बदसलूकी की। घटना वाले दिन ही डॉ. निधि का ट्रांसफर कर दिया गया था। इस मामले के सामने आने के बाद शासन के अधिकारी के घर पर डॉक्टर भेजने और न भेजने को लेकर बहस छिड़ी हुई है। वहीं बहस से इतर सीएम धामी की मां की एक तस्वीर भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इस तस्वीर में मुख्यमंत्री की माता चेकअप के लिए डॉक्टर के पास पहुंची दिख रही हैं। तस्वीर सामने आने पर लोग मुख्यमंत्री धामी के परिवार की सादगी की मिसाल दे रहे हैं। उनका कहना है कि अगर मुख्यमंत्री के परिजन चेकअप के लिए खुद अस्पताल जा सकते हैं, तो अधिकारियों की हनक क्यों बर्दाश्त की जा रही है।
सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की माता जी विमला देवी की हैं, जो कि इसी हफ्ते अपने रूटीन चेकअप के लिए देहरादून के सीएमआई अस्पताल पहुंची थीं। वहां मशहूर डॉक्टर महेश कुड़ियाल ने उनका चेकअप किया। तस्वीरों में देखा जा सकता है कि सीएम धामी की मां किस तरह सादगी से डॉक्टर के पास उनके केबिन में रूटीन चेकअप के लिए बैठी हैं। तस्वीरों में उनके साथ सीएम धामी की बड़ी बहन भी नजर आ रही हैं। मुख्यमंत्री धामी के परिवार की ये तस्वीरें वीआईपी कल्चर के मुंह पर तमाचा मारती दिखती हैं। बता दें कि बीते दिन दून हॉस्पिटल की डॉ. निधि उनियाल ने स्वास्थ्य सचिव की पत्नी पर बदतमीजी का आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया था। सीएम ने मामले का संज्ञान लेते हुए डॉ. निधि का ट्रांसफर रोकने के आदेश दिए हैं। मामले की जांच के लिए कमेटी भी बनाई जाएगी।

News Aap Tak
Author: News Aap Tak

Chief Editor News Aaptak Dehradun (Uttarakhand)

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram
Recent Posts