News Aap Tak

Bengali English Gujarati Hindi Kannada Punjabi Tamil Telugu
News Aap Tak

5100 पोलिंग बूथ होंगे महिलाओं के सुपुर्त, वोटिंग के लिए एक घंटा एक्स्ट्रा , जानिए कैसी है चुनावी तैयारी उत्तराखंड में

न्यूज़ आपतक उत्तराखंड 

उत्तराखंड चुनावी दंगल

           उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव  संपन्न करवाने के लिए चुनाव आयोग (Election Commission) ने कमर कस ली है. आयोग ने व्यवस्थाओं और कायदों के बारे में जानकारी दी कि सियासी रैलियों (Rally) में सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) की ज़िम्मेदारी, स्टेट डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी की होगी. आयोग ने एक ‘सी विजिल’ एप (EC App) बनाया है, जिसके तहत किसी भी प्रकार से नियमों की अवहेलना पर फ़ोटो क्लिक कर कोई भी आयोग को भेज सकता है और ऐसा मैसेज गोपनीय तौर पर भी भेजा जा सकेगा. वोटरों (Uttarakhand Voters) के लिए और क्या खास इंतज़ाम होंगे, जानिए तमाम बातें.
देहरादून. उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव संपन्न करवाने के लिए चुनाव आयोग ने पूरी तरह से तैयार होने का दावा किया. शुक्रवार को मीडिया से बातचीत करते हुए आयोग ने बताया कि प्रलोभन मुक्त चुनाव करवाने के इंतज़ाम किए जा रहे हैं और शराब वितरण पर पूरी तरह अंकुश लगाने की बात राजनीतिक पार्टियों ने भी कही है. आयोग ने गुरुवार को राज्य में 6 राजनीतिक पार्टियों और डीजीपी से बातचीत कर उनके सुझाव आदि जाने. पार्टियों ने चुनाव खर्च और पोलिंग का समय बढ़ाने की मांग प्रमुख रूप से रखी. इनके अनुरूप आयोग ने चुनाव को लेकर पूरा खाका साझा किया.
चुनाव आयोग के डेटा के मुताबिक उत्तराखंड में 81.43 लाख वोटर्स हैं, जिनमें 1.9 लाख नए महिला वोटर्स एड हुए हैं. 1,10,408 नए युवा वोटर्स जुड़े हैं जो 18 से 19 साल की उम्र के हैं, जबकि सर्विस वोटर्स 93 हजार से अधिक हैं. जिन बूथों पर 65 फीसदी से कम मतदान के आंकड़े रहे, उन्हें चिह्नित कर जागरूकता कैम्पेन चलाया जा रहा है. आयोग ने निष्पक्ष चुनाव करवाने का दावा करते हुए कहा ​है कि आपराधिक पृष्ठभूमि वाले कैंडिडेट्स को तीन बार एड देकर अपने ब्योरे सार्वजनिक करने होंगे. पॉलिटिकल पार्टीज़ को भी ऐसे उम्मीदवारों पर सफाई देनी होगी.

5100 बूथ महिलाएं करेंगी कंट्रोल

उत्तराखंड में पुरुषों की तुलना में चूंकि महिला वोटर ज़्यादा हैं इसलिए यहां महिलाओं को वोटिंग के लिए बढ़ावा देने के लिहाज़ से आयोग ने 5100 पोलिंग बूथ ऐसे बनाए हैं, जहां 100 फीसदी स्टाफ महिलाओं का होगा. इसी तरह, 5 पोलिंग बूथ दिव्यांगों द्वारा हैंडल किए जाएंगे. पहले 1500 वोटर्स पर होता था, अब 1200 वोटरों पर एक पोलिंग सेंटर होगा. कुल 66,700 वॉलेंटियर्स पोलिंग बूथ पर तैनात रहेंगे.

News Aap Tak
Author: News Aap Tak

Chief Editor News Aaptak Dehradun (Uttarakhand)

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram