News Aap Tak

Bengali English Gujarati Hindi Kannada Punjabi Tamil Telugu
News Aap Tak

टेंडर में बैंक गारंटी निकली फर्जी , सरकार ने दो वरिष्ठ इंजीनियरों को कर दिया सस्पेंड,वित्तीय अनियमितता का मामला,

न्यूज़ आपतक उत्तराखंड

देहरादून,उत्तराखंड

जनपद देहरादून में लोक निर्माण विभाग के अन्तर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-07 के चौड़ीकरण की परियोजना हेतु धनराशि ₹4255.84 लाख की स्वीकृति सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय, भारत सरकार के पत्रांक RO/UK/Annual Plan/2020-21/Doiwala-04 दिनांक 25 फरवरी, 2021 के द्वारा प्राप्त हुई। प्रश्नगत राजमार्ग में परियोजना के अन्तर्गत चैनेज 155+100 से 160+700 में आई०एस०बी०टी० से अजबपुर रेलवे कासिंग तक चौड़ीकरण कार्य हेतु अधीक्षण अभियन्ता 10वाँ रा०मा० वृत्त, लो0नि0वि0 देहरादून द्वारा सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा निर्धारित मानक आर०एफ०पी० एवं ई०पी०सी० डाक्यूमेंट के अनुसार पत्रांक 1371/13 याता-रा०मा०-10/2021 दिनांक 26.03.2021 द्वारा आमंत्रित करते हुए दिनांक 11.05.2021 को निविदायें प्राप्त की गयी निविदा प्रक्रिया में प्रथम न्यून्तम निविदादाता मैसर्स राकेश कुमार एण्ड कम्पनी, 151ए, सत्यम इन्क्लेव, दिल्ली की निविदा ₹25.90 करोड़ (Excluding GST) आगणित लागत से 23.66 प्रतिशत कम दरों पर प्राप्त हुई।
रियोजना निर्माण कार्य हेतु न्यूनतम निविदादाता मैसर्स राकेश कुमार एण्ड कम्पनी को अधीक्षण अभियन्ता 10वाँ रा०मा० वृत्त, लो०नि०वि०. देहरादून द्वारा पत्रांक 2262/4 याता (85)- रा०मा०-10/2021, दिनांक 03.07.2021 द्वारा Letter of acceptance जारी किया गया। तत्क्रम में सम्बन्धित फर्म द्वारा अपने पत्र दिनांक 07.08.2021 से यूनियन बैंक ऑफ इण्डिया, दारूखाना शाखा, मुम्बई, महाराष्ट्र निर्गत बैंक गारण्टी द्वारा संख्या-31790IGL0080480 दिनांक 07.08.2021 277,70,000.00 को अधिशासी अभियन्ता, रा०मा० खण्ड, लो०नि०वि०, डोईवाला को प्रस्तुत की गयी। बैंक गारण्टी की पुष्टि किये बिना ही अधीक्षण अभियन्ता अनुबन्ध द्वारा संख्या-17/एस०ई०-रा०मा०-10/2021-22 दिनांक 09.08.2021 को पंजीकृत कर सम्बन्धित फर्म को Date of Start एवं Date of Completion की तिथि निर्धारित करते हुए अवगत कराया गया।
बैंक गारण्टी संख्या-31790IGL0080482 दिनांक 07.08.2021 के सत्यापन की कार्यवाही के दौरान प्रश्नगत बैंक गारण्टी जाली (Fake) पायी गयी। अतः बँक गारण्टी का सत्यापन करने से पूर्व ही कार्य का अनुबन्ध गठित किये जाने सम्बन्धी गम्भीर लापरवाही एवं वित्तीय अनियमितता के कारण अनुबन्ध गठन के प्रकरण से सम्बन्धित अधीक्षण अभियन्ता रणजीत सिंह तथा अधिशासी अभियन्ता ओम पाल सिंह को तत्काल प्रभाव से निलम्बित करते हुए नियमानुसार अनुशासनिक कार्यवाही प्रारम्भ की जा रही है।

News Aap Tak
Author: News Aap Tak

Chief Editor News Aaptak Dehradun (Uttarakhand)

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram