News Aap Tak

Bengali English Gujarati Hindi Kannada Punjabi Tamil Telugu
News Aap Tak

40 ग्राम पंचायतों का मोटर मार्ग हुआ अवरुद्ध,टिहरी झील के तटवर्ती क्षेत्रों में भारी भू-धसाव

सिर्फ न्यूज़ आपतक चेनल पर देखिए हमारी वीडियो रिपोर्ट

न्यूज़ आपतक उत्तराखंड चिन्यालीसौड़

उत्तरकाशी चिन्यालीसौड़ 

टिहरी बांध की झील से चिन्यालीसौड़ जोगत मोटर मार्ग के हाडियाडी के पास हो रहे भू धसाव से अवरुद्ध मार्ग को खोलने के लिए जिला प्रसासन ने आवाजाही के लिए बिना कुछ इंतजाम किए जनता की आवाजाही बंद कर 40 गांवो की मुश्किलें बढ़ा दी जिससे प्रभावितो में शासन,प्रसाशन, व समन्धित विभागो के खिलाप रोष व्याप्त होने पर स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने बन्द पड़े मोटर मार्ग पर सांकेतिक धरना प्रदर्शन कर आंदोलन को तेज करने की चेतावनी दी।
टिहरी बांध की झील का जलस्तर 830 पहुंचने पर चिन्यालीसौड़ जोगथ मोटर मार्ग के पास भूस्खलन से अवरुद्ध हो गया
टिहरी बांध की झील से चिन्यालीसौड़ जोगत मोटर मार्ग के हाडियाडी के पास हो रहे भू धसाव से अवरुद्ध मार्ग को खोलने के लिए जिला प्रसासन ने आवाजाही के लिए बिना कुछ इंतजाम किए जनता की आवाजाही बंद कर 40 गांवो की मुश्किलें बढ़ा दी जिससे प्रभावितो में शासन,प्रसाशन, व समन्धित विभागो के खिलाप रोष व्याप्त होने पर स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने बन्द पड़े मोटर मार्ग पर ही सांकेतिक धरना प्रदर्शन कर आंदोलन को तेज करने की चेतावनी दी।


टिहरी बांध की झील का जलस्तर 830 पहुंचने पर चिन्यालीसौड़ जोगथ मोटर मार्ग की आवाजाही जिला प्रशासन द्वारा बंद कर दी गई जिससे उत्तरकाशी जनपद के दिचली गमरी के 40 गांव सहित टिहरी जनपद के लगभग दो दर्जन गांव के साथ चिन्यालीसौड़ के आस पास क्षेत्रों से विभिन्न विद्यालयों के छात्र-छात्राओं सहित लगभग 2500 से 4000 लोगों की आवाजाही के लिए पुनर्वास विभाग द्वारा 10 सीटर मोटर बोट भेज कर इतिश्री कर दी। ग्रामीणों की भीड़ को देखते हुए मोटर ऑपरेटर मोटर बोट देकर बैरंग वापस लौट गए जिस पर प्रभावित क्षेत्र के लोगों ने रोष व्याप्त कर अवरुद्ध मार्ग पर ही सांकेतिक धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया।
प्रभावितों का कहा कि इस डेंजर जोन से आवाजाही के लिए कम से कम 50 सीटर मोटर बोट का इंतजाम कर लोगों की सुचारू आवाजाही शुरू हो सके साथ ही प्रस्तावित वैकल्पिक कोटीगाड से भड़कोट लिंक मोटर मार्ग का निर्माण भी शीघ्र प्रारंभ कर दिया जाए।

गौरतलब है कि 6 दिनों से मोटर बोट की व्यवस्था ना होने पर प्रभावित क्षेत्र के लोगों सहित छात्र-छात्राओं तथा बारात का सीजन होने पर बारातियों को अपनी जान हाथ पर रखकर इस डेंजर जोन से आवाजाही करने के लिए मजबूर हैं जनप्रतिनिधियों का कहना है कि अगर शासन प्रशासन तथा संबंधित विभाग इस ओर अगर ध्यान नहीं देता है तो प्रभावित क्षेत्र के लोगों को राष्ट्रीय राजमार्ग में चक्का जाम धरना प्रदर्शन प्रारंभ करने को मजबूर होना पड़ेगा।

इस मौके पर पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष शूरवीर रांगड़, पूर्व प्रमुख विजेंद्र रावत ,व्यापार मंडल अध्यक्ष कृष्णा नौटियाल, प्रधान संगठन ब्लॉक अध्यक्ष कोमल राणा, पूनम रमोला , ओबीसी कांग्रेस महामंत्रीउर्वीदुत्त गैरोला प्रधान प्रमोद, दीपक, दिगपाल सिंह, जगबीर आसवाल प्रकाश नौटियाल आदि मौजूद थे

News Aap Tak
Author: News Aap Tak

Chief Editor News Aaptak Dehradun (Uttarakhand)

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram