News Aap Tak

Bengali English Gujarati Hindi Kannada Punjabi Tamil Telugu
News Aap Tak

नौली गांव में भालू के हमले में 60 साल की महिला की मौत, खेत में काम करने गई बुजुर्ग महिला पर खूंखार भालू का हमला

न्यूज़ आपतक देहरादून उत्तराखंड

चमोली के कर्णप्रयाग

पहाड़ में जंगली जानवरों का आतंक थम नहीं रहा। कहीं हाथी आतंक का सबब बने हुए हैं तो कहीं लोग गुलदार के हमले में जान गंवा रहे हैं। ताजा मामला चमोली के कर्णप्रयाग का है। जहां नौली गांव में भालू के हमले में 60 साल की महिला की मौत हो गई। घटना के बाद से क्षेत्र में भालू की दहशत बनी हुई है। लोग डरे हुए हैं, उन्होंने वन विभाग से भालू को पकड़ने की मांग की। साथ ही सुरक्षा के इंतजाम करने को भी कहा। भालू के हमले में जान गंवाने वाली महिला का नाम मथनी देवी पत्नी स्व. देवी प्रसाद खंडूड़ी बताया जा रहा है। 60 साल की मथनी देवी दिवाली के दिन पूजा की तैयारी में जुटी थीं। वो अपने बगीचे के पास सब्जी और फूल लेने गई हुई थीं। तभी भालू ने महिला पर हमला कर दिया। भालू ने महिला को बुरी तरह नोच दिया, जिससे वो लहूलुहान हो गई।

महिला की चीख-पुकार सुनकर परिजन मौके पर पहुंचे तो मथनी देवी वहां घायल हालत में मिली। इस बीच भालू जंगल की ओर भाग गया। परिजन मथनी देवी को अस्पताल ले जा रहे थे, लेकिन महिला की रास्ते में ही मौत हो गई। इसके बाद गांव वालों ने भालू के हमले की सूचना क्षेत्रीय राजस्व अधिकारी को दी। राजस्व विभाग की टीम मौके पर पहुंची और महिला के शव का पोस्टमार्टम कराया। दिवाली के दिन हुई इस घटना से परिवार के साथ-साथ गांव में भी मातम पसर गया। महिला की मौत से ग्रामीणों में दहशत के साथ वन विभाग के प्रति गुस्सा भी है। उन्होंने कहा कि गांव में भालू की चहलकदमी लगातार बनी हुई है, जिस वजह से उन्हें घर से बाहर निकलने से डर लगने लगा है। ग्रामीणों ने वन विभाग से भालू को पकड़ने की मांग की।

News Aap Tak
Author: News Aap Tak

Chief Editor News Aaptak Dehradun (Uttarakhand)

Share on whatsapp
WhatsApp
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram